Tuesday, July 16, 2024
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखण्ड़उत्तराखंड में दिल-दहलाने वाली घटना: सौतेली मां ने बेटी को मौत के...

उत्तराखंड में दिल-दहलाने वाली घटना: सौतेली मां ने बेटी को मौत के घाट उतारा,हत्या से पहले किया मासूम का शृंगार

'Murder in Kashipur' मामला: हत्या से पहले सौतेली मां ने बेटी का श्रृंगार किया

खुद के राज खुलने के डर से सौतेली मां ने बेटी को उतारा मौत के घाट

Murder in Kashipur: हत्या से पहले सौतेली मां ने बेटी का शृंगार किया था। सौतेली मां लक्ष्मी ने मासूम को स्नान कराया, फिर कपड़े पहनाकर बालों में कंघी कर चोटी भी बांधी। मासूम सोनी को शीशे में उसकी शक्ल दिखा कहा कि वह अत्यधिक सुंदर लग रही है। अब हर रोज ऐसे ही चोटी बांध दिया करेगी। ये बातें कह हत्यारोपित मां ने सोनी को घर में रोक लिया। चूंकि 17 अप्रैल को दादी संतोष देवी और बड़े पापा किशन लाल उसे साथ लेकर रिश्तेदारी में जाने वाले थे।

बता दें कि आइटीआइ थाना क्षेत्र में खड़कपुर देवीपुरा में श्रीराम नवमी के दिन एक सौतेली मां ने जायदाद के लालच में बेटी की हत्या कर डाली। सौतेली मां ने बेटी की हत्या करके उसका शव पास के निर्माणाधीन मकान के नीचे दबा दिया था।

मासूम की दादी ने पड़ोसियों के हवाले बताया कि सोनी पड़ोस में कन्या पूजन में गई थी। वहां से लौटने के बाद खौलता हुआ पानी उस पर डाल रस्साी से गला दबाकर हत्या कर दी। उन्होंने बर्तन में पानी खौलाने के निशान देख यह बात कही।

लक्ष्मी देवी की चार वर्षीय बेटी दीपिका ने अपनी दादी संतोष देवी और पुलिस अधिकारियों को बताया कि दीदी को मारने में दो मामा भी थे। दीदी को मत मारो मामा बोलकर वह रो रही थी, तभी उसकी गाल पर थप्पड़ मारा गया। इस पर वह चुप हो गई और कातिल ने हत्या कर डाली।

पड़ोसियों ने बताया कि : मोहल्ले में सोनी सबसे सुंदर और समझदार थी। वह चौथी क्लास में पढ़ती थी। स्कूल से आने के बाद सबसे पहले होमवर्क पूरा करती थी। वह सुबह शाम अपनी दादी और मां के साथ खाना बनाने और बर्तन धोने में भी मदद करती थी।

आठ वर्ष की सोनी सौतेली मां की अच्छाइयां और बुराइयां दादी को बताती थी। पड़ोस में रहने वाली लक्ष्मी देवी की मौसी ने उसकी शादी कराई थी। लक्ष्मी घर का कई सामान अपनी मौसी को देती थी, जिसकी जानकारी सोनी अपनी दादी को देती थी। पोल-पट्टी खुलने के डर से उसने हत्या कर दी।

हत्या के बाद घर के सामने लगाए चक्कर

सोनी की हत्या करने के बाद मां लक्ष्मी देवी अपने घर के सामने चक्कर लगा रही थी। यह फुटेज सीसीटीवी में भी कैद है। पुलिस को अंदेशा है कि मकान में शव दबाने में वह अकेली नहीं थी। हत्याकांड में अन्य लोग भी शामिल रहे होंगे।पुलिस लक्ष्मी देवी के मोबाइल से आठ लोगों के नंबर लेकर काल डिटेल जांच करने में जुट गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments