Tuesday, July 16, 2024
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखण्ड़उत्तराखंड में बिजली उपभोक्ताओं को लगा बड़ा झटका, बिजली हुई महंगी

उत्तराखंड में बिजली उपभोक्ताओं को लगा बड़ा झटका, बिजली हुई महंगी

लोकसभा चुनाव के बीच उत्तराखंड के लोगों को बिजली का झटका लगा। उत्तराखंड में करीब सात फीसदी तक बिजली दरों में बढ़ोतरी की गई है।

Electricity Bill Uttarakhand : उत्तराखंड में चुनाव खत्म होते ही लोगों को बिजली का लगा झटका।

बीजेपी सरकार ने प्रदेश में बिजली के दामों में बढ़ोतरी कर दी है, इससे प्रदेश के कुल 27 लाख उपभोक्ताओं में से लगभग 22 लाख उपभोक्ताओं की जेब पर भार बढ़ गया है। अब घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 49 पैसे और व्यावसायिक उपभोक्ताओं को 69 पैसे प्रति यूनिट अधिक चुकाने होंगे। घरेलू श्रेणी के उपभोक्ताओं जिनका लोड चार किलोवाट तक के लिए फिक्स चार्ज में 15 रुपये प्रति किलोवाट चार किलोवाट से अधिक वालों के लिए 20 रुपये प्रति किलोवाट बढ़ा है।

जबकि उत्तराखंड को ऊर्जा प्रदेश भी कहा जाता है।  इसके बावजूद हर साल उत्तराखंड में बिजली के दाम बढ़ाए जाते हैं।

नियामक आयोग ने 6.92 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। जबकि यूपीसीएल ने नियामक आयोग को 23 से 27 फीसदी बिजली बढ़ोतरी का प्रस्ताव भेजा था। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष एमएल प्रसाद ने इसकी जानकारी दी है।नई दरें 1 अप्रैल से लागू मानी जाएगी। यानी इस महीने के अंत में जो बिजली का बिल आएगा उसे उपभोक्ताओं को बढ़े हुए दामों के तहत चुकाना होगा।

लेकिन उत्तराखंड नियामक आयोग ने प्रदेश भर में जनसुनवाई करने के बाद तकरीबन सात फ़ीसदी बिजली के दाम बढ़ने का निर्णय लिया है। हालांकि इसमें बीपीएल के तकरीबन 4 लाख से ज्यादा उपभोक्ताओं, स्नो बाउंड उपभोक्ताओं और फिक्स्ड चार्ज में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है।

ये बढ़े बिजली के दाम

  • बड़े हुए दामों के तहत 100 यूनिट तक खर्च करने वाले उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 25 पैसे ज्यादा चुकाने होंगे।
  • जबकि 101 से 200 यूनिट बिजली खर्च करने वाले उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 30 पैसे ज्यादा चुकाने होंगे।
  • 200 से 400 यूनिट बिजली खर्च करने वाले उपभोक्ता 40 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से ज्यादा चार्ज देंगे।
  • उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 30 पैसे ज्यादा चुकाने होंगे।
  • 200 से 400 यूनिट बिजली खर्च करने वाले उपभोक्ता 40 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से ज्यादा चार्ज देंगे।
  • घरेलू मीटर के लिए 25 किलोवाट तक के उपभोक्ताओं को 30 पैसे प्रति यूनिट ज्यादा चुकाने होंगे
  • जबकि 25 किलोवाट से ऊपर के उपभोक्ताओं को 35 पैसे प्रति यूनिट अधिक चुकाने होंगे।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments