Monday, July 22, 2024
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखण्ड़जेल चुंगी के पास हाईवे से गुजर रहा नाला जगह-जगह अतिक्रमण से...

जेल चुंगी के पास हाईवे से गुजर रहा नाला जगह-जगह अतिक्रमण से पटा

जेल चुंगी के पास नेहरू नगर में पानी की निकासी नहीं होने से स्थानीय निवासी परेशान समस्या खत्म करने के बजाय विभाग ने तीन अन्य गलियों का पानी नाले में छोड़ा

जेल चुंगी के पास नेहरू नगर में पानी की निकासी नहीं होने से स्थानीय निवासी परेशान समस्या खत्म करने के बजाय विभाग ने तीन अन्य गलियों का पानी नाले में छोड़ा:-जेल चुंगी के पास हाईवे से गुजर रहा नाला जगह-जगह अतिक्रमण से पटा पड़ा है। सफाई के अभाव में पानी की निकासी नहीं होने से पानी गलियों और घरों में भर जाता है। ऐसे में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

नेहरू नगर निवासी श्याम कुमार सैनी, मुकलेश, रामसराय, संजय महावर, दिनेश महावर, राम अवतार, संजीव गुप्ता, एसके गंभीर, अमित अरोडा, नितिन, भानू प्रताप, बीबी धीमान आदि का कहना था कि नेहरू नगर में कुछ साल पहले तक पानी निकासी की कोई समस्या नहीं थी। पहले यहां का पानी डीएवी कॉलेज के पीछे तालाब में चला जाता था। बाद में आबादी बढ़ने पर यहां से एक नाला निकाला गया। फिर से पानी की निकासी की समस्या खत्म हो गई लेकिन कुछ कुछ साल से हाईवे की ऊंचाई बढ़ने पर उनकी काॅलोनी नीचे हो गई है। ऐसे में लोगों के घर नीचे हो गए। जैसे-तैसे पानी हाईवे से गुजर रहे नाले में जा रहा था। ये नाला आजादनगर चौक से होते हुए जीआईसी के पास बने नाले में जा रहा है। वहीं अब इस नाले पर अस्पताल, होटल, बाइक मैकेनिंग और नर्ससी आदि दुकानदारों ने अतिक्रमण कर लिया है। पक्के स्लैब डालकर अतिक्रमण किया हुआ है। इसके चलते सफाईकर्मी पीछे से तो नाला साफ कर देते हैं लेकिन अतिक्रमण के चलते यहां से सफाई नहीं हो पाती।  अब हल्की सी बारिश आने पर नाला ओवरफ्लो हो जाता और पानी उनके घरों में घुस जाता है।
पानी घरों में न घुसे इसलिए लोगों ने दरवाजा ऊपर उठवाकर दीवार तो कर ली है लेकिन घर काफी गहराई में होने के चलते पानी निकासी के लिए लगाए गए पाइपों के जरिए घरों में घुस जाता है। रात के समय जब भी बारिश होने के आसार नजर आते हैं तो उन्हें उठकर पहले पाइपों में कपड़ा आदि लगाना पड़ता है।

 स्थानीय लोग हर किसी से लगा चुके गुहार:-

स्थानीय लोग नगर निगम अधिकारियों से लेकर प्रतिनिधियों तक इस समस्या के निदान की गुहार लगा चुके हैं लेकिन निस्तारण नहीं किया गया। स्थानीय लोगों के अनुसार उन्होंने सीएम पोर्टल पर शिकायत की। इसके साथ ही तहसील दिवस में भी शिकायत की गई। हर जगह केवल आश्वासन ही मिला। वहीं पहले नाले में कुछ गलियों का पानी आता था। अब अन्य कई गलियों का पाती भी इसी नाले में छोड़ दिया गया है। इन गलियों का पानी आसानी से जीआईसी की ओर से गुजर रहे नाले में छोड़ा जा सकता था।I

नगर आयुक्त विजयनाथ शुक्ला का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में है। समस्या के निस्तारण के प्रयास जल्द ही किए जाएंगे।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments